Sunday, November 22, 2020

आशाओं को शोषणमुक्त कराना व दस हजार मानदेय दिलाना संगठन का संकल्प

प्रदेश अध्यक्ष ने आशाबहुओं को पढाया अनुशासन व संघर्ष का पाठ



हर्रैया स्थिति थान्हाखास शिव मंदिर पर रविवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आशाबहुओं की मासिक बैठक सम्पन्न हुआ। बैठक में आशाबहुओं को अनुशासन व संघर्ष की नसीहत देते हुए। आशा अधिकारमंच के प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी से अपनी समस्या बताते हुए। कुछ आशाबहुओं द्वारा बताया गया कि अब भी उनसे प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के फार्म को सम्मिट करने हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर 200रु.प्रति फार्म अनाधिकृत रूप से वसूली होता है। पैसा न देने की दशा में या तो फार्म जमा नहीं होता अथवा उसे सम्मिट नहीं किया जाता।

जिससे लाभार्थी को योजना का लाभ नहीं मिल पाता श्री पाण्डेय ने जल्द ही इस समस्या को उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाने का आश्वासन देते हुए कहा कि आप फार्म जमा कर उसकी रिसीविंग लिया करें। पैसा मांगने पर वीडियो बना लिया करें। उन्होंने कहा कि रामायण महाभारत से सीख मिलता है कि बिना कर्म (संघर्ष) फल नहीं मिलता पाण्डवों को बिना संघर्ष उनका अधिकार नहीं मिला।

भगवान राम को खुद बिना धनुष उठाये समुद्र ने मार्ग नहीं सुझाया। ऐसे में यदि हमें सी.एच.सी./पी.एच.सी.के शोषण से मुक्ति पाना है व न्युनतम परिश्रमिक के तौर पर दस हजार मानदेय पाना है । तो उसके लिए एकजुट संघर्ष करना होगा व संगठन को मजबूत बनाना होगा। जिस तरह घर में लगे मकडी के जाले को दूर करने हेतु हमें झाडू उठाना पडता है। हमें अपने लक्ष्य प्राप्ति हेतु लक्ष्य के प्रति संकल्पित होना पडेगा। आशा बहुओं व संगठन पदाधिकारियों के बैठक में बिना सूचना अनुपस्थिति पर नाराजगी जताते हुए।

उन्होने कहा कि संगठन में दायित्वों के प्रति अनुशासनहीनता मंजूर नहीं है। हमें लक्ष्य के प्रति उत्साहित पाण्डवों की जरुरत है। उन्होंने भविष्य में बिना सूचना अनुपस्थिति पर अर्थदण्ड का चेतावनी भी दिया। प्रभारी जिलाध्यक्ष शैलेन्द्री श्रीवास्तव ने कहा कि आपको संगठन का परिचय पत्र व नियुक्ति पत्र शीघ्र मिले। उसके लिए आप अपना फोटो आशा आई.डी. व पत्रव्यवहार के पते के साथ शीघ्र जमा करें। इस मौके पर संरक्षक दिनेश सिंह मगन, उपाध्यक्ष पूनम सिंह, सीमा त्रिपाठी, आरती त्रिपाठी, रूख्मिणी उपाध्याय, सुनीता देवी, श्यामादेवी, साधना देवी, रेखा देवी, मीना देवी, राधिका देवी, शारदा देवी, किरन बर्मा, पद्मावती सिंह, कांती यादव, स्नेहलता सहित सैकडों आशा बहुएं मौजूद रहीं।

No comments:

हाजीपुर। व्यवहार न्यायालय हाजीपुर जिला विधिज्ञ संघ भवन में अधिवक्ता राजकुमार दिवाकर की अध्यक्षता एवं भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य किसान म...