Wednesday, November 18, 2020

जब तक जिंदा रहूंगा, गरीबों के लिए करता रहूंगा काम: मुकेश सहनी

 

पटना17 नवंबर 2020 : बिहार मंत्री परिषद में मंत्री पद का शपथ लेने के बाद आज पहली बार विकासशील इंसान पार्टी प्रमुख मुकेश सहनी ने पटना के होटल मौर्या में आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में पत्रकारों को संबोधित किया। इस दौरान उन्‍होंने बिहार की जनता को धन्‍यवाद दिया। सहनी ने कहा कि मैंने हमेश गरीबोंपिछड़ों और वंचितों के लिए संघर्ष किया हैइसलिए मैं आगे भी उनके लिए काम करता रहूंगा। उन्‍होंने कहा कि हमारी एनडीए की सरकार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की अगुआई में गरीबयुवाकिसान और महिलाओं के लिए काम करेगी।

सहनी ने कहा कि बिहार की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर भरोसा जतायाइसलिए एनडीए सरकार उनके भरोसे पर पूरे तरीके से खड़ा उतरने का काम करेगी। बिहार में मजबूत सरकार बनी है। उन्‍होंने कहा कि एनडीए चुनाव में किये अपनी घोषणाओं पर भी काम करेगा। सहनी ने कहा कि मेरा सौभाग्‍य है कि मुझे नीतीश कुमार के साथ काम करने का मौका मिला है। उनके पास राजनीति और गुड गर्वनेंस का लंबा अनुभव है। उनसे मुझे बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।

सहनी ने अपने संघर्षों को याद करते हुए कहा कि आज मैं अतिपिछड़ा मल्‍लाह का बेटा हूं। जो कुछ भी हूंवो मुझे विरासत में नहीं मिला है। इसके लिए मैंने 21 वर्ष तक संघर्ष किया है। 30 रूपये की मजदूरी कर करियर शुरू किया था। फिर पिछड़ों व वंचितों को उनका हक दिलाने के लिए संघर्ष किया। इसलिए मेरी प्राथमिकता आने वाले दिनों में खासकर बिहार के युवाओं के लिए काम करने की होगी। प्रधानमंत्री जी व मुख्‍यमंत्री जी की जिम्‍मेदारियों का निर्वहन बखूबी करूंगा। उन्‍होंने महागठबंधन के सवाल पर कहा कि अच्‍छा काम करने का परिणाम अच्‍छा होता है और बुरे काम करने का परिणाम बुरा होता है। 

संवाददाता सम्‍मेलन में राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष राजीव मिश्राउमेश सहनीशिवबचन सिंह निषादअशोक चौहानआनंद मधुकर यादवविकास सिंहविकास बॉक्‍सरगौतम बिंदअर्जुन सहनी मौजूद उपस्थित थे।

No comments:

आधुनिकता के दौर में कहां गई डोली और कहां गए कहार

बदलते परिवेश और आधुनिकता ने अपनी पुरानी पहचान और संस्कृति को मानो काफी पीछे छोड़ दिया है जैसे बात करते हैं डोली का  आने वाले पीढ़ी डोली को  ...