Monday, November 9, 2020

बैक घोटाले के विरूद्ध समाजसेवी ने ग्यापन सौंप तीन दिन में कार्यवाही का किया मांग


इलाहाबाद बैंक डुहवामिश्र व उसके द्वारा संचालित मिनी ब्रांच नरायनपुर द्वारा करोडो का घोटाला। 



आज करोडों के बैंक घोटाले के पर्दाफाश हेतु इलाहाबाद बैंक के डुहवा मिश्र शाखा पर घंटों पीडितों संग जमकर नारेबाजी करते हुए, शाखा प्रबन्धक को तीन दिनों का अल्टीमेटम देते हुए, समाज सेवी बैंक घोटाले के सैकडों पीडितों संग उपजिलाधिकारी हर्रैया के कार्यालय पर न्याय हेतु धरने पर बैठ गये। सूचना मिलते ही ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने ग्यापन लेकर कार्यवाही का आश्वासन देते हुए धरना समाप्त कराया। 

ग्यापन सौंप समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी ने क्षेत्र की कुशलावती पत्नी छठ्ठीराम,राधिका पत्नी रामतेज, शीला पत्नी देवी प्रसाद, सूर्यप्रकाश शुक्ला पुत्र रामरूप शुक्ल, शान्ती पत्नी बाबूलाल, शैनाजबानो पुत्री मो.इसराइल सहित नरायनपुर,पौली, डुहरिया,बसडीला, नदायें सहित कई गांवों के सैकडों खाताधारकों का करोडों रूपया इलाहाबाद बैंक डुहवामिश्र व उसके द्वारा संचालित मिनी ब्रांच नरायनपुर की मिली भगत से कई लाख रूपयों के गमन के सन्दर्भ में कार्यवाही की मांग करते हुए पीडितों को न्याय दिलाने की मांग करते हुए बताया कि हमारे क्षेत्र के अधिकांश ग्रामीणों का जिनका खाता इलाहाबाद बैंक डुहवामिश्र द्वारा संचालित मिनीब्रांच नरायनपुर में खाता संचालित था।

 इन लोगों के अनपढ, गंवार,सीधेपन व स्थानीयता के विश्वास का फायदा उठाते हुए पूर्व में एक निकासी पर कई बार अंगूठा लगवाते हुए निकासी फार्म भरवाते हुए  तथा चेक व ट्रांजक्शन का फायदा उठाते हुए बैंक कर्मियों की मिली भगत से ब्रांच संचालक अजय मिश्र पुत्र कृपाशंकर मिश्र निवासी ग्राम पहितिया,पो.संग्रामपुर, जिला बस्ती के माध्यम से कई लाख रूपया हडपते हुए न केवल ब्रांच बीते 04/11/2020 से बंद है अपितु इलाहाबाद बैंक डुहवा के भी कुछ जिम्मेदार कर्मचारियों ने अपना स्थानांतरण करा लिया। फलतः क्षेत्र के सैकडों खाताधारकों के  हजारों परिवार भुखमरी के कगार पर हैं और न्याय हेतु थान्हे से बैंक बैंक से थान्हे पर न्याय हेतु भटक रहे हैं फलतः किसी की लडकी का विवाह बाधित है तो किसी का ईलाज किसी का कृषि कार्य तो किसी का व्यापारिक कार्य ठप है उन्होंने कहा कि इतने बडे घोटाले में निश्चित पूरी शाखा जिम्मेदार है।

ऐसे में ब्रांच संचालक सहित बैंक के सभी कर्मचारियों के विरूद्ध सुसंगत धाराओं के तहत कार्यवाही सुनिश्चित कराते हुए उनकी व उनके परिवार व सगे सम्बन्धियों के खातों की जांच कराते हुए। त्वरित पीडितों को न्याय दिलायें वरन हम पीडितों संग आगामी शुक्रवार से बैंक का घेराव कर धरना प्रदर्शन को बाध्य होंगें। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने जल्द से जल्द पीडितों को न्याय दिलाने का आश्वासन देते हुए थान्हाध्यक्ष हर्रैया को त्वरित कार्यवाही का निर्देश दिया है। इस मौके पर कुशलावती, शान्ती, क्रांती, बजरंगी बाबूलाल, प्रभात शुक्ला,टनाटन वस्तवी,बजरंगी भाईजान, अशोक श्रीवास्तव, अंशू मिश्र, रामप्रकाश शर्मा सागर शर्मा सहित सैकडों की संख्या में पीडित महिला पुरूष मौजूद रहे।

No comments:

हाजीपुर। व्यवहार न्यायालय हाजीपुर जिला विधिज्ञ संघ भवन में अधिवक्ता राजकुमार दिवाकर की अध्यक्षता एवं भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य किसान म...